News

कालाधन सफेद करने में मदद कर रहे हैं निजी प्लेन, आए सरकार की रडार पर

Live Today 30 Nov. 2016 10:09

नई दिल्ली। कालेधन को पकड़ने के लिए मोदी सरकार ने नोटबंदी कर दुनिया को हैरान कर दिया। 500 और 1000 के नोटों पर बैन लगा कर सरकार ने कालाधन रखने वालों पर बड़ा हमला किया। लेकिन अब खबर आ रही है कि कालेधन को सफेद बनाने के लिए नायाब तरीका निकाल लिया गया है। और इस तरीके ने पीएम मोदी की नींद उड़ा दी है। आप सदैव परिपूर्णता या कहें किऐसी खबरें आ रही थीं कि छोटे एयरफील्ड्स और एयरस्ट्रिप्स, जहां पर कि यात्रियों के सामान की तलाशी के लिए सुरक्षा व्यवस्था का इंतजाम नहीं है, बड़ी संख्या में काले धन को सफेद बनाने के लिए इस्तेमाल की जा रही हैं।

मोदी सरकार ने मंगलवार को चार्टर्ड विमानों और हेलिकॉप्टर मालिकों को चेतावनी दी कि वे काले धन को एक जगह से दूसरी जगह पहुंचाने के लिए अपनी सेवाएं ना दें। बताया जा रहा था कि निजी चार्टर्ड विमानों और हेलिकॉप्टरों द्वारा लोग 500 और 1,000 रुपये के पुराने और काले धन को इन विमानों के सहारे दूसरी जगहों पर ले जा रहे हैं, ताकि इन्हें वैध बनाया जा सके। इन्हीं खबरों के मद्देनजर उड्डयन मंत्रालय ने मंगलवार को यह चेतावनी जारी की।

केंद्र सरकार ने चेतावनी देते हुए कहा कि चार्टर ऑपरेटर्स और छोटे हेलिकॉप्टर्स के मालिक इस तरह की गतिविधियों में शामिल न हों। मंत्रालय ने यह भी कहा कि इन विमानों के पायलट उड़ान भरने से पहले पुलिस की मौजूदगी में विमान के अंदर रखे जा रहे सामान की जांच करें। DGCA द्वारा जारी एक आदेश में जॉइंट चीफ ललित गुप्ता ने कहा, ‘ऐसी खबरें आ रही हैं कि कुछ निजी विमान मालिक अमान्य घोषित किए जा चुके नोटों (500 और 1,000) को देश के एक हिस्से से दूसरे हिस्से में ले जाने के लिए अपनी सेवाएं दे रहे हैं। ऐसा खासतौर पर उन एयरफील्ड्स से हो रहा है जहां यात्रियों के सामान की जांच के लिए विशेष व्यवस्था नहीं है।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s