Bihar · BJP · Dalit · Dhanbad · Hindi · Hindu · Indian · Indian Government · Narendra Modi · National Dastak · News · Religious

Dalit did not fill the water in dhanbad

धनबाद। दलितों पर अत्याचार की देशभर से हर दिन अनेकों खबरें सामने आती हैं। कहीं दलितों को मंदिरों में प्रवेश वर्जित कर दिया जाता है तो कहीं दलित युवक को घोड़ी चढ़ने से रोका जाता है। लेकिन हाल ही में भाजपा शासित राज्य झारखंड की तेतुलिया बस्ती के कुछ दबंगों ने दलित समुदाय के लोगों को पानी लेने से रोक दिया है। बताया जा रहा है कि बस्ती स्थित टंकी में तीन दिनों से ताला जड़ा है।

इस पर गांव में पानी के लिए हाहाकार मचा हुआ है। तेतुलिया बस्ती व हरिजन टोला में तनाव का माहौल है। टोला के ग्रामीणों का आरोप है कि विधायक ढुलू महतो के मद से निर्मित डीप बोरिंग की पानी टंकी से कुछ दबंग लोग कई दिनों से पानी नहीं लेने दे रहे हैं। पानी की यह टंकी गांव में पानी की समस्या दूर करने के लिए बनवायी गयी थी।

इस पर आरोप है कि बस्ती के सवर्ण सहदेव महतो ने मोटर चलाने का जिम्मा लेकर पानी टंकी के रूम की चाबी अपने पास रख ली है। वहीं कुछ दिन पूर्व हरिजन टोला की महिलाएं जब पानी लेने गयीं, तो गांव के सवर्ण ने उन्हें रोक दिया। बताया जा रहा है कि उस पर आरोप है कि अक्सर टंकी में पानी भरकर नहीं रखा जाता है। इतना ही नहीं उस युवक की मां का व्यवहार छुआछूत वाला होता है। पानी के लिए कई बार झगड़ा भी हो चुका है। लेकिन तीन दिन से टंकी में ताला लगा है।

वहीं जब महिलाओं ने घर जाकर चाबी मांगी, तो उन्हें गाली-गलौज कर भगा दिया गया। हरिजन टोला के ग्रामीण विधायक ढुलू महतो के आवास गये, तो उन्होंने युवक को फोन कर मोटर चालू करने का निर्देश दिया। जब महिलाएं सवर्ण युवक के घर चाबी मांगने गयीं, तो परिवार वालों ने टाल-मटोल कर चाबी घर पर नहीं होने की बात कही।

ट्रेंडिंग  

सब्सक्राइब न्यूज़लेटर

देश

दलित पानी भरते थे, सवर्णों ने लगा दिया टंकी पर ताला.. जानिए फिर क्या हुआ

धनबाद। दलितों पर अत्याचार की देशभर से हर दिन अनेकों खबरें सामने आती हैं। कहीं दलितों को मंदिरों में प्रवेश वर्जित कर दिया जाता है तो कहीं दलित युवक को घोड़ी चढ़ने से रोका जाता है। लेकिन हाल ही में भाजपा शासित राज्य झारखंड की तेतुलिया बस्ती के कुछ दबंगों ने दलित समुदाय के लोगों को पानी लेने से रोक दिया है। बताया जा रहा है कि बस्ती स्थित टंकी में तीन दिनों से ताला जड़ा है।

इस पर गांव में पानी के लिए हाहाकार मचा हुआ है। तेतुलिया बस्ती व हरिजन टोला में तनाव का माहौल है। टोला के ग्रामीणों का आरोप है कि विधायक ढुलू महतो के मद से निर्मित डीप बोरिंग की पानी टंकी से कुछ दबंग लोग कई दिनों से पानी नहीं लेने दे रहे हैं। पानी की यह टंकी गांव में पानी की समस्या दूर करने के लिए बनवायी गयी थी।

पढ़ें- आप हाथ मलते रहिए, मोदी सरकार ने इंजीनियरिंग में सवर्णों को दे दी 50.5 फीसदी सीट

इस पर आरोप है कि बस्ती के सवर्ण सहदेव महतो ने मोटर चलाने का जिम्मा लेकर पानी टंकी के रूम की चाबी अपने पास रख ली है। वहीं कुछ दिन पूर्व हरिजन टोला की महिलाएं जब पानी लेने गयीं, तो गांव के सवर्ण ने उन्हें रोक दिया। बताया जा रहा है कि उस पर आरोप है कि अक्सर टंकी में पानी भरकर नहीं रखा जाता है। इतना ही नहीं उस युवक की मां का व्यवहार छुआछूत वाला होता है। पानी के लिए कई बार झगड़ा भी हो चुका है। लेकिन तीन दिन से टंकी में ताला लगा है।

वहीं जब महिलाओं ने घर जाकर चाबी मांगी, तो उन्हें गाली-गलौज कर भगा दिया गया। हरिजन टोला के ग्रामीण विधायक ढुलू महतो के आवास गये, तो उन्होंने युवक को फोन कर मोटर चालू करने का निर्देश दिया। जब महिलाएं सवर्ण युवक के घर चाबी मांगने गयीं, तो परिवार वालों ने टाल-मटोल कर चाबी घर पर नहीं होने की बात कही।

पढ़ें- RSS ने सवर्णों से किया वादा निभाया, यूपी से आरक्षण खत्म करने की शुरुआत

ग्रामीण थक-हारकर तेतुलिया दो के मुखिया आदर कुमार मिश्रा के पास गये और मामले की जानकारी दी। मिश्रा भी ग्रामीणों के साथ युवक के घर जाकर चाबी मांगे, मगर उसने देने से इनकार कर दिया। तब मिश्रा ने मामले की पूरी जानकारी भाटडीह ओपी को दी। मुखिया आदर कुमार मिश्रा ने बताया कि सहदेव महतो के साथ कुछ अन्य दबंग व्यक्ति हरिजन टोला के लोगों को दबाना चाह रहे हैं। वे दलितों को पानी नहीं लेने देते हैं। कहते हैं कि हरिजन टोला के लोग दूसरी जगह पानी लें।

सहदेव महतो से जब फोन पर संपर्क किया तो उसने कहा कि पानी टंकी की चाबी मेरे पास ही थी, लेकिन झगड़ा झंझट के कारण कुछ दिन पहले पंचायत समिति सदस्य रूमा देवी के पति हराधन गयाली को चाबी सौंप दी थी। इस संबंध में उसने बताया की घऱ में शादी है, इसलिए चाबी उसे दे दी है। घर में भीड़ होने के कारण उसे पानी की जरूरत है। वहीं पेयजल व स्वच्छता विभाग के प्रभारी कार्यपालक अभियंता रामनाथ सरकार ने कहा कि योजना विधायक मद की है। उनका विभाग कुछ नहीं कर सकता है।

Source: National Dastak

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s